चुन-चुन कर मारेगा मच्छरों को यह पौधा
गार्डन में कैकटस या मनी प्लांट का होना एक आम बात है। बहुत से पौधे प्रेमी ऐसे पौधों को अपने गार्डन में पनाह देते हैं जो दिखने में खूबसूरत होते हैं या फिर खूबसूरत फूलो को समेटे होते हैं।

लेकिन आपका गार्डन दिखने में जितना खूबसूरत लगेगा उतना ही मच्छरों को अपनी ओर आकर्षित करेगा। इसलिए हम यहां आपको ऐसे पौधे के बारे में बता रहे हैं, जो आपके गार्डन से मच्छरों का नामोंनिशान मिटा देगा।

ये कार्निवोरस प्लांट नर्सरी में आसानी से मिल जाएंगे रही बात इनकी केयर की तो इन्हें ज्यादा देखभाल की भी जरुरत नहीं होती। समय-समय पर पानी देते रहने से ही यह अपना काम चला लेगा और अपने शिकार को खुद-ब-खुद पकड़ लेगा।

ये पौधे होते हैं अलग:

ये पौधे और पौधों से काफी अलग होते हैं। बात करें पिचर प्लांट की तो, अगर आप इसे अपने लिविंग रूम में लगाते हैं तो यह मच्छरों को खाने के लिए अपने आप खुलता और खाने के बाद अपने आप बंद होता है। इस क्रिया को देखना आपके लिए एक नया एक्सपीरिएंस होगा।

कैसे करता है काम:

यह पौधे अपनी कीड़े-मकौड़ों और मच्छरों को अपनी ओर आकर्षित करते हैं और फिर इन्हे खा जाते हैं। जिससे आपका घर बिना किसी केमिकल छिड़काव के पेस्ट फ्री बन जाता है।

देखभाल:

कार्निवोरस प्लांट की देखभाल करना काफी आसान होता है। इन पौधों को पर्याप्त मात्रा में पानी और प्रकाश चाहिए होता है और फिर वे आसानी से पल जाते हैं। इन पौधों को बगीचे की दीवार पर भी टांग सकते हैं। ये आसानी से आपके गार्डन में फैल जाएंगे और बगीचे को पेस्ट-फ्री रखेंगे।

इन पौधों को आप अपने गार्डन में प्लांट कर सकते हैं-

बटरवॉर्ट:

देखभाल: इन्हें आद्र तापमान की जरुरत होती है। इसलिए इसे घर के अंदर पालें जहां धूप की रोशनी आती हो लेकिन बेहद कम।
कैसे करता है काम: यह पौधा पत्तों पर एक मकस सिक्रीट करता है जो छोटे-मोटे कीड़ों को अपनी ओर आकर्षित कर उन्हें मार देता है।

पिचर प्लांट:

देखभाल: इन पौधों को पानी थोड़ा अधिक मात्रा में चाहिए होता है इसके साथ इन्हें सूर्य की सीधी रोशनी से भी दूर रखें।
कैसे करता है काम: इनके पास एक फंसाने वाला तंत्र होता है, जिससे वो कीड़ों को अपनी ओर आकर्षित करते हैं और फिर उसे पिचर में फांस लेते हैं।

वीनस फ्लाईट्रैप:

देखभाल: इस पौधे को नल का पानी न दें बल्कि डिस्टिल्ड वाटर इस पौधे की ग्रोथ के लिए बेहतर रहेगा।
कैसे करता है काम: जब भी कोई मक्खी या मच्छर इस पौधे के आसपास भिनभिनाते हैं तो इन पौधों का मुंह अपने खुल जाता है और इन्हें पकड़ने के बाद बंद भी हो जाता है।

घर पर ही बनाएं पेस्टीसाइड

आंगन में लगे पौधे घर की खूबसूरत लगते हैं लेकिन जब इनके कीडे लग जाते हैं तो पौधे खराब हो जाते हैं। यह सूखने लगते हैं और इनकी ग्रोथ भी रूक जाती है। कैमिक्ल युक्त कीटनाशकों से इनको और भी नुकसान पहुंच सकता है। इससे घर का वातावरण भी खराब हो सकता है। नैचुरल तरीके से घर पर ही कीटनाशक स्प्रे बनाकर पौधों पर इनका छिड़काव करने से कोई नुकसान नहीं होता।

जरूरी सामान:

2 लहसुन (छिला हुआ), 2 टेबलस्पून हल्दी पाउडर, 2 लाल मिर्च पाउडर, 2 टीस्पून लिक्विड डिश वॉशर, 3 कप पुदीने के पत्ते, 12 कप पानी।

इस तरह करें तैयार:

1. लहसुन और पुदीने के पत्तों को बारीक पीस लें।
2. इनको पीसने के बाद इस मिश्रण में पानी मिलाएं और इसमें लाल मिर्च डाल कर मिलाएं।
3. इस मिक्स किए हुए मिश्रण को बर्तन में डाल कर कुछ देर के लिए उबाल लें।
4. जब पानी उबल जाए तो इसे 1 रात के लिए ऐसे ही रहने दें। कीटनाशक स्प्रे बनकर तैयार है।
5. अब इसमें लिक्विड डिश वॉशर भी डाल दें। इस कीटनाशक को स्प्रे बोतल में डाल कर इस्तेमाल करें।

इस तरह करें इस्तेमाल:

इसे हर बार इस्तेमाल से पहले अच्छे से हिला कर मिक्स करें और इस स्प्रे का पौधों पर कीटनाशक की तरह छिड़काव करें। इसका इस्तेमाल धूप में न करें। शाम को और सुबह के समय इसका छिड़काव करें। -साभार