26 जनवरी के कार्यक्रम गणतंत्र दिवस पर देशभक्ति के रंग में रंगा डेरा सच्चा सौदा: जिस तरह से देशभर में होली-दीवाली व अन्य त्यौहार धूमधाम से मनाए जाते हैं, इससे भी बेहतरीन व अद्भुत अंदाज में सर्वधर्म संगम डेरा सच्चा सौदा में राष्ट्रीय पर्व गणतंत्र दिवस का त्यौहार मनाया गया।

इस अवसर पर पूरा शाह सतनाम जी धाम देशभक्ति के रंग में रंगा नजर आया। इस शुभ अवसर पर आयोजित दो दिवसीय इंटरनेशनल कल्चरल फेस्टिवल में दुनिया के विभिन्न देशों से आए अंतरराष्ट्रीय स्तर के कलाकारों ने समां बांध दिया। 26 जनवरी की रात को कार्यक्रम की शुरूआत में ही पूज्य गुरु जी ने ‘जिएंगे- मरेंगे मर मिटेंगे देश के लिए’ गाना गाकर करोड़ों श्रद्धालुओं के भीतर देशभक्ति व राष्ट्रीय सेवा का जोश भर दिया।

तत्पश्चात केरला से पंहुचे कलाकारों ने इंडियन मार्शल आर्ट की कला व इंडिया ग्रुप के कलाकारों ने मलखम्ब के खतरनाक स्टंटों का बेहतरीन प्रदर्शन कर हर किसी को दांतों तले अंगुली दबाने पर मजबूर कर दिया। राजस्थानी कलाकारों के राजस्थानी स्टंट जिसमें तलवारबाजी, लाठी स्टंट व नाचा की प्रस्तुति भी हैरान करने वाली थी। इसके बाद साऊथ अफ्रीका से आए अंतरराष्ट्रीय स्तर के कलाकारों ने जिमनास्टिक के साथ खतरनाक लेकिन हैरतंगेज स्टंट दिखाए।

शाह सतनाम जी गर्ल्ज शिक्षण संस्थान की छात्रा व अंतरराष्ट्रीययोगा खिलाड़ी स्वप्निल इन्सां की प्रस्तुति ने भी खूब तालियां बटोरी। कनाडा के रिंग डांसर व आस्ट्रेलियाई कलाकारों की प्रस्तुति ने भी दर्शकों को दांतों तले अंगुली दबाने को मजबूर कर दिया। कार्यक्रम के दौरान इंडिया गो टेलेंट में भाग ले चुके शाह सतनाम जी बॉयज स्कूल के विद्यार्थियों ने भी बहुत ही हैरतअंगेज खतरनाक स्टंट से हर किसी को आश्चर्यचकित किया। इसके अलावा शाह सतनाम जी बॉयज स्कूल, श्री गुरुसर मोडिया और शाह सतनाम जी बॉयज स्कूल, सरसा के विद्यार्थियों की प्रस्तुतियों ने भी हर किसी का मन मोह लिया। पंजाबी कलाकारों के स्टंट भी हैरान करने वाले थे।

‘शेर-ए-हिंद’ की ड्रेस में एंट्री
ने भरा देशभक्ति का जोश

26 जनवरी को पावन भंडारे के दौरान जब पूज्य गुरु जी स्टेज पर एंटर हुए तो करोड़ों निगाहें एक बार के लिए थम सी गई। एंट्री के दौरान पर्दा हटते ही सर्वप्रथम कमल का बंद फूल धीरे-धीरे खुला, करोड़ों निगाहें स्टेज पर ही टकटकी लगाए डॉ. एमएसजी के दर्श-दीदार को लालायित थी लेकिन सभी उस समय आश्चर्यचकित रह गए जब पूज्य गुरु जी ‘हिंद का नापाक को जवाब’ के किरदार ‘शेर-ए-हिंद’ के गेटअप में कमांडो की ड्रेस में आग उगलती ओपन बॉडी जीप में जोरदार तरीके से एंटर हुए। पूज्य गुरु जी का यह आकर्षक रूप हर किसी को बेहद पसंद आया तथा वे मंत्रमुग्ध होकर नाचने लगे। इस अवसर पर साध-संगत ने जयहिंद का नारा लगाकर पूज्य गुरु जी का स्वागत किया।

शहीद भारतीय सैनिकों के परिवारों
की संभाल करेगा डेरा सच्चा सौदा

एक और ऐतिहासिक कार्य की शुरूआत, 128 पर पहुंची मानवता भलाई कार्यों की सूची
देश की रक्षा करते हुए सरहद पर शहीद हुए भारतीय सैनिकों के परिजनों की संभाल के लिए सर्वधर्म संगम डेरा सच्चा सौदा ने ऐतिहासिक पहल की है। डेरा सच्चा सौदा के सेवादार न केवल शहीद सैनिकों के बच्चों की पढ़ाई-लिखाई का जिम्मा उठाएंगे, बल्कि जरूरतमंद सैनिकों के परिवारों को मकान भी बनाकर दिए जाएंगे व उन्हें रोजगार भी उपलब्ध करवाया जाएगा। यही नहीं, यदि कोई सैनिक युद्ध में घायल होता है या कोई अंग नकारा हो जाता है तो उन्हें कृत्रिम अंग भी प्रदान किए जाएंगे।

26 जनवरी को गणतंत्र दिवस व पावन भंडारे के अवसर पर पूज्य गुरु संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां ने जब करोड़ों की साध-संगत से खचाखच भरे पंडाल में जैसे ही इस नए मानवता भलाई कार्य की शुरूआत किए जाने का आह्वान किया तो समर्थन में एक साथ करोड़ों हाथ खड़े हो गए। सभी ने इस नए मानवता भलाई कार्य में बढ़-चढ़कर भाग लेने का संकल्प लिया।

‘जय हिंद, जय भारत, जय आर्मी’ का दिया नारा

पावन भण्डारे के दूसरे दिन व 26 जनवरी को रात्रि में आयोजित इंटरनेशनल कल्चरल फेस्टिवल के दौरान पूज्य गुरु संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां ने फरमाया कि सबके अंदर देशभक्ति की मशाल जल रही है, जहां देशभक्ति की लहर हो, वहां कोई कहर नहीं चल सकता। जहां देशभक्ति का जज्बा हो, वहां कोई आतंकवाद चल नहीं सकता। यदि सैनिक हैं तो हम चैन की नींद सोते हैं।

आर्मी -40 डिग्री में भी खड़ी है तो वो इसलिए कि कोई हमें फिर से गुलाम न बना दे। निर्दोषों का खून न बहा दे। हमारे दिलो-जमीर में सेना के लिए सत्कार है और हमेशा रहेगा। जितना हो सकेगा आर्मी के लिए और ज्यादा कदम उठाएंगे। भगवान न करे कभी युद्ध हो! मालिक न करे कोई शहीद हो! इस अवसर पर पूज्य गुरु जी ने ‘जय हिंद, जय भारत, जय आर्मी’ का नारा बोलकर व सेल्यूट कर भारतीय शहीदों को श्रद्धांजलि दी तो पीछे करोड़ों की तादाद में लोगों ने भी उक्त नारा दोहराकर शहीदों को नमन किया।

देशभक्ति के रंग में रंगे करोड़ों श्रद्धालु

पावन भंडारे के दौरान पूज्य गुरु जी ने जब अपनी मधुर वाणी से अपनी पहली फिल्म ‘एमएसजी द मैसेंजर’ का ‘जियेंगे मरेंगे मर मिटेंगे देश के लिये’ गाना गाया तो उपस्थित साध-संगत में देशभक्ति की भावना हिलोरें मारने लगी। तत्पश्चात पूज्य गुरु जी ने अपनी आने वाली फिल्म ‘हिंद का नापाक को जवाब’ के गाने रिलीज किए, जिनमें ‘सिस्टम हिल गया…’, ‘जंग है हमरी आतंकवाद से…’, ‘ये जाना तुम्हें पाके…’, ‘थैंक्यू फॉर दैट’ इत्यादि शामिल थे। इस अवसर पर फिल्म का टेÑलर भी दिखाया गया।